क्यूं मैं काफिर कहाता हूँ.. 5

नहीं हूँ मैं नमाजी, न ही गिरिजा जाता हूँ, पर तुम्हारी ही मूरत बनाकर, हर रोज शीश झुकाता हूँ. फिर क्यूँ कहते है कुछ ख़ास बंदे, कि मैं गुनाह करता हूँ? हूँ मैं मुरख प्रेम-मत में, जो तुम्हें मिट्टी में बसाता हूँ, पर मैं मुरख हूँ सनातन, तुम्हें कण-कण में पाता हूँ. क्या यही है […]


आओ मिलकर नमन करे हम 4

Drafting a poem fr Independence Day….suggest me so it can be more beautiful… आजादी के नव भोर में हम सब, याद करे उन वीरों को, कर दिया समर्पित, सर्वस्व जिन्होंने, भारत माँ की आजादी को, आओ मिलकर नमन करे हम, आजादी के दीवानों को…..


Self Improvement:The short-trick for Success

Self-improvement is the biggest favor that anyone can do to himself. Surely, it is the most harmonious (but not so easy) way to become successful in life. The core idea is to improve your abilities with every passing second till you become capable and worthy for the objective you aimed for. Be it the education, […]

Motivation

मेरी सबसे बड़ी ख्वाहिश 8

यूं तो ख्वाहिशों का कोई अंत नहीं.. ये एक अथाह समन्दर है मन में, जो हमारी पहचान बुनती है, जो जीवन के कालचक्र में ईंधन का काम करती है.. किसी को चाह बचपन की, किसी को चाह तर्पण की, किसी को जन्नत लुभाता है, तो कोई फरिस्ता बनने की हसरत सजाता है। कोई परिवर्तन को […]


ख्वाबों को बुनने दो 13

ख्वाबों को बुनने दो, ख्यालों को पलने दो, समेट लेंगे ये चादर में आसमां, जो इनको उड़ने की आजादी दो। कलियों को खिलने दो, बचपन को संवरने दो, बदलेंगे यही संसार को कल में, जो इनको आज से सपने दो! बेमतलब न रोको-टोको इनको, न समझ की सीमाओं में बांधो, ये स्वछन्द मन कल संवारेंगे […]


लक्ष्य राष्ट्रनिर्माण का होगा

बुद्ध का जो है अतित सहेजे, उस धरा से भविष्य का भोर अब होगा.. ज्ञान-बोध की ऐतिहासिक मिट्टी में, नवभारत अभ्यास करेगा.. सींचेंगे हम सब सपने मिलकर, लक्ष्य राष्ट्रनिर्माण का होगा.. -सन्नी